शेयर बाजार क्या है ? शेयर बाजार से पैसा कैसे कमाएं

शेयर बाजार क्या है? शेयर बाजार से पैसा कैसे कमाएं

 शेयर बाजार क्या है ? शेयर बाजार से पैसा कैसे कमाएं

नमस्कार दोस्तों, आप सभी का हमारे ब्लॉग पर एक बार फिर से स्वागत है। क्या आप शेयर बाजार से पैसा कमाना चाहते हैं? अगर हां तो यह आर्टिकल आपके लिए है। दोस्तों, शेयर बाजार में कमाने से पहले आपको यह जानना जरूरी है कि शेयर मार्केट होता क्या है? और यह कैसे काम करता है।

जब आप शेयर बाजार के बारे में अच्छी तरह से जान जाएंगे तो आप यहां से रेगुलर इनकम भी कर सकते हैं।

शेयर बाजार क्या है?

शेयर बाजार में कंपनी के शेयर को खरीदना और बेचना होता है। जब आप किसी कंपनी के शेयर को कम दाम पर खरीद कर ज्यादा दाम पर बेचते हैं तो आपको मुनाफा होता है। जिससे हमारी इनकम होती है।

शेयर बाजार में निवेश कर उससे कमाने से पहले आपको कुछ बातों का ध्यान रखना पड़ता है। दोस्तों, शेयर मार्केट में कमाना कोई आसान काम नहीं है लेकिन बहुत ज्यादा मुश्किल भी नहीं है।

कुछ लोग इसे जुआ की तरह मानते हैं। लेकिन, दोस्तों हमारा यकीन रखीए शेयर बाज़ार कोई जुआ नहीं है। यह सिर्फ आपकी समझ और नॉलेज की गुणवत्ता का खेल है। जैसे-जैसे आप इसमें निपुण होते जाएंगे वैसे ही आप ज्यादा कमाते और कम गवाते जाएंगे।

दोस्तों, शेयर बाजार में कमाने से पहले आपका शेयर बाजार में अकाउंट होना चाहिए। जिसे हम डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट के नाम से जानते हैं। अगर आपने अभी तक डिमैट अकाउंट नहीं खुलवाया है तो नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके डिमैट अकाउंट खुलवा सकते हैं।

जब आप डिमैट अकाउंट खुलवाते है तो इसी के साथ आपका ट्रेडिंग अकाउंट भी खुल जाता है।

 शेयर बाजार क्या है ? शेयर बाजार से पैसा कैसे कमाएं

डीमेट अकाउंट:

डीमेट अकाउंट एक साधारण बैंक अकाउंट से बिल्कुल अलग होता है जैसे बैंक अकाउंट में आप अपना पैसा जमा करवा सकते हैं और उसे सेव करके रख सकते हैं।

वैसे ही डिमैट अकाउंट में आपके द्वारा खरीदे हुए शेर को सेव करके रखा जाता है जब तक कि आप उसे बेच ना दें। डिमैट अकाउंट खुलवाने की कुछ फीस होती है यह फीस अलग अलग हो सकती है यह आप पर निर्भर करता है कि आप कहां से डिमैट अकाउंट खुलवा रहे हैं।

वहीं डिमैट अकाउंट के anual maintenance charges होते हैं जो ₹100 से लेकर ₹1000 तक हो सकते हैं।

क्या खरीदे हुए शेर मेरे बैंक अकाउंट में आते हैं? नहीं, आपके द्वारा खरीदे हुए शेयर आपके बैंक अकाउंट में नहीं आते हैं बल्कि यह आपके demat अकाउंट में जाते हैं।

आपका डीमेट अकाउंट भारत में दो जगह पर खोला जाता है वह है एनएसडीएल और सीडीएसएल, आप direct डीमेट अकाउंट यहां पर नहीं खुलवा सकते हैं। आपको यहां पर अकाउंट खोलने के लिए किसी ब्रोकर की मदद लेनी होती है।

जो आपका अकाउंट यहां पर खोलता है। भारत में कुछ अच्छे डिस्काउंट ब्रोकर है जो आपका डीमेट अकाउंट कम लागत पर खोलते हैं और इनकी एनुअल मेंटिनेस चार्जेस भी बहुत कम है जैसे कि Zerodha, Upstox, और 5paisa आदि।

ट्रेडिंग अकाउंट:

ट्रेडिंग अकाउंट वो अकाउंट होता है जिसमें आप किसी शेयर को खरीद और बेच सकते हैं। ट्रेडिंग अकाउंट एनएसई और बीएसई में शेयर खरीदने और बेचने के लिए होता है।

यह अकाउंट खोलने के लिए आपको किसी ब्रोकर की मदद लेनी होती है जहां से आप अपना डिमैट अकाउंट खुलवाते हैं। वहीं पर आपका ट्रेडिंग अकाउंट खुद-ब-खुद खुल जाता है और यह अकाउंट बिल्कुल फ्री में खुलता है और इसकी कोई एनुअल मेंटिनेस चार्जेस भी नहीं होती।

चलिए अब हम आपसे शेयर बाजार के बारे में कुछ जानकारी साझा करते हैं। भारत में शेयर की ट्रेडिंग दो एक्सचेंजर द्वारा की जाती है जिसे नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) और मुंबई स्टॉक एक्सचेंज (BSE) के नाम से जाना जाता है।

इन दोनों एक्सचेंज पर देश की बड़ी से बड़ी और छोटी से छोटी कंपनियां खुद को लिस्ट करती हैं। जहां पर हम जैसे लोग उनके शेयर को खरीद और बेच सकते हैं।

शेयर बाजार क्या है? शेयर बाजार से पैसा कमाएं 5 minute में

शेयर मार्केट में निवेश करने से पहले आपके पास दो अकाउंट होना आवश्यक है जिसे डिमैट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट कहा जाता है। आपका ट्रेडिंग अकाउंट बीएसई और एनएसई में ट्रेडिंग करने के लिए खुलता है जबकि आपका डिमैट अकाउंट एनडीएसएल और सीडीएसएल के पास आपके खरीदे हुए शेयर सेव करने के लिए खुलता है।

अगर आप फुल टाइम ब्रोकर सर्विस वाला अकाउंट खुलवाना चाहते हैं तो आप अपने बैंक में जाकर अपना डिमैट और ट्रेडिंग
अकाउंट खुलवा सकते हैं लेकिन दोस्तों इसमें कुछ ऐसे फीचर दिए जाते हैं जिसकी हमें शायद जरूरत भी नहीं होती। इसी कारण से इनकी अकाउंट खोलने की फीस और ऐनुअल मेंटेनेंस चार्जेस बहुत ज्यादा होते है।

इसलिए शुरुआत में हमें डिस्काउंट ब्रोकर के पास ही अपना डिमैट अकाउंट खुलवाना चाहिए। अभी आप शेयर बाज़ार को सीखना और इसमें शुरुआत करना चाहते हैं। जैसा कि हमने पहले बताया है। भारत में कुछ बेहतरीन डिस्काउंट ब्रोकर उपलब्ध है। जो कम चार्जेस पर बेहतरीन सर्विस उपलब्ध करवाते है।

अब आपने अकाउंट खुलवा लिया है तो अब आपको अपनी डिमैट अकाउंट में कुछ फंड डिपाजिट करवाने होंगे। जिसकी मदद से आप शेयर को खरीद सकते हैं। शेयर को खरीदने और बेचने के भी कई तरीके होते हैं।

लेकिन अभी आप शुरआत में है तो आपको सिर्फ इन्ह दो तरीकों के बारे में जानना बेहद जरूरी है। एक तरीका तो ये है कि आप किसी शेयर को खरीद कर उसी दिन बेच देते हैं तो उसे इंट्राडे या Same Day Trading कहते है।

दूसरा तरीका ये है कि अगर आप किसी शेयर को खरीद कर एक दिन से ज्यादा अपने पास रखते है तो उसे डिलीवरी कहते हैं।

हमारी सलाह ये है कि अगर आप शुरुआत में ट्रेडिंग कर रहे है और आपके पास ज्यादा अनुभव नहीं है तो आपको intraday ट्रेडिंग से दूर रहना चाहिए। क्योंकि यह एक बहुत जोखिम भरी ट्रेडिंग है।

ट्रेडिंग (Trading) क्या है? शेयर बाजार में कितने प्रकार का ट्रेडिंग होता है!

शेयर बाजार क्या है ? शेयर बाजार से पैसा कैसे कमाएं

इंट्राडे (Intraday):

इंट्राडे शेयर बाजार का एक ऐसा सेगमेंट होता है जिसमें आप किसी कंपनी के शेयर को एक दिन मैं खरीद कर उसी दिन बेचना होता हैं। अगर आप इंट्राडे ट्रेडिंग करते हैं तो आपको सुबह खरीदा हुआ शेयर, मार्केट बंद होने से पहले किसी भी हाल में बेचना होता है चाहे वो शेयर फायदे में हो या वो नुकसान में।

डिलीवरी:

डिलीवरी शेयर बाजार का एक ऐसा सेगमेंट है जिसमें आप किसी शेयर को खरीदकर 1 दिन से ज्यादा अपने पास रख सकते हैं। जब आपको लगे कि शेयर कि कीमत आपके खरीदे हुए दाम से बढ़ चुकी है। आपको अच्छा मुनाफा हो रहा है तब आप उसे बेच सकते हैं।

डिलीवरी सेगमेंट के भी दो प्रकार का होते है। शॉर्ट टर्म और लोंग टर्म

शॉर्ट टर्म:- शॉर्ट टर्म में आप किसी शेयर को 1 हफ्ते, 1 महीने या ज्यादा से ज्यादा 1 साल तक होल्ड करके रखते हैं।

लॉन्ग टर्म:- लॉन्ग टर्म में आप किसी शेयर को 1 साल, 3 साल या 5 साल से अधिक के लिए अपने पास होल्ड करके रखते हैं तो उसे लोंग टर्म इन्वेस्टमेंट कहा जाता है।

How to make money in stocks [2020]: Benefits of Stock market earning

अब आपको पता चल चुका है कि शेयर मार्केट में कितने सेगमेंट होते हैं, और यह कैसे काम करते हैं। अब आप किसी शेयर को अच्छे दाम पर खरीद सकते हैं और उसे मुनाफे पर बेच सकते हैं।

जब आपको किसी शेयर पर अच्छा मुनाफा होता है। तब आपकी इनकम जनरेट होती है। शेयर बाज़ार में ऐसे ही कमाया जाता है। अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया है तो नीचे दिए शेयर बटन पर क्लिक करके इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे।

Spread the love

1 thought on “शेयर बाजार क्या है ? शेयर बाजार से पैसा कैसे कमाएं”

Leave a Comment